खास दोस्त के लिए शायरी

यारो के लिए लव शायरी हिंदी 

क्योंकि उन्हीं के रवैया से मुझे पता चला कि बिना पैसे आपकी कहीं भी इज्जत नहीं है इंसान बस दो मामलों में बेबस है दुख बेच नहीं सकता और सुख खरीद नहीं सकता तन चाहे काला ही क्यों ना हो कोशिश करें कि मन काला ना हो इंसान जब कुछ गलत करता है 

तो दाएं बाएं आगे पीछे तो देख लेता है बस ऊपर देखना भूल जाता है मोमबत्ती को भी आखिर में ही पता चलता है कि उसे उस धागे नहीं खत्म किया जिस धागे को वह सीने में छुपाए रखती थी यह वह जमाना है दोस्तों लोगों से नाराज हो जाओ तो मनाने की बजाय साथ ही छोड़ जाते हैं





 रिश्ते भी इमारत की ही तरह होते हैं हल्की-फुल्की दरारें नजर आए तो दिए नहीं मरम्मत कीजिए मुट्ठी भर बीज बिखेर दो दिलों की जमीन पर मौसम बरसात का है शायद अपनापन पनप जाए दुनिया की सबसे महंगी चीज है मदद हजार से मांगो तो कोई एक ही करता है डिलीट जितना तेजी से होता है उतनी तेज होता है क्योंकि समय सर्जन में ही लगता है विसर्जन में नहीं चाहे वह 

और बहुत खूबसूरत होता है पता नहीं क्यों जीना मजबूरी सा हो गया है खुश दिखना खुश रहने से ज्यादा जरूरी सा हो गया है कुवे में उतरने वाली बाल्टी यदि झुकती है तो वह भरकर बाहर निकलती है जिंदगी का भी यही गणित है जो झुकता है वही प्राप्त करता है 

अगर कोई मनुष्य आपको केवल जरूरत पड़ने पर ही याद करता है तो उस बात का बुरा मत मानो क्योंकि जब अंधेरा हो जाता है तभी दिए की याद आती है कोशिश आखरी सांस तक करनी चाहिए या तो लक्ष्य हासिल होगा या अनुभव जिसकी फितरत हमेशा बदलने की हो वह कभी किसी का नहीं हो सकता 

चाहे वह समय हो या फिर इंसान स्वार्थ से रिश्ते बनाने की कितनी भी कोशिश करो रिश्ते बनेंगे नहीं और प्यार से बने रिश्ते को तोड़ने की कितनी भी कोशिश करो टूटी हुई चीजें बहुत चुभती है फिर चाहे वह कांच हो या रिश्ते किसी ने सच ही कहा है वह इंसान आपका मॉल कभी नहीं समझ पाएग

 जिसके लिए आप हमेशा हाजिर रहते हो पेड़ कभी डाली काटने से नहीं चूकता पेड़ हमेशा जड़ काटने से सूखता है वैसे ही इंसान अपने कर्म से नहीं बल्कि अपनी छोटी सोच और गलत व्यवहार से हारता है स्वर्ग में सब कुछ है लेकिन मौत नहीं गीता में सब चाहिए या तो लक्ष्य हासिल होगा 

या अनुभव जिसकी फितरत हमेशा बदलने की हो वह कभी किसी का नहीं हो सकता चाहे वह समय हो या फिर इंसान स्वार्थ से रिश्ते बनाने की कितनी भी कोशिश करो रिश्ते बनेंगे नहीं और प्यार से बने रिश्ते को तोड़ने की कितनी भी कोशिश करो कि नहीं टूटी हुई चीजें बहुत छुट्टी है

 फिर चाहे वह कांच हो या रिश्ते किसी ने सच ही कहा है वह इंसान आपका मॉल कभी नहीं समझ पाएगा जिसके लिए आप हमेशा हाजिर रहते हो पेड़ कभी डाली काटने से नहीं सूखता पेड़ हमेशा जड़ काटने से सूखता है वैसे ही इंसान अपने कर्म से नहीं बल्कि अपनी छोटी सोच और गलत व्यवहार से हारता है

 स्वर्ग में सब कुछ है लेकिन मौत नहीं गीता में सब कुछ है लेकिन झूठ नहीं है दुनिया में सब कुछ है लेकिन किसी को सुकून नहीं है आज के इंसान में सब कुछ है लेकिन सब्र नहीं है अलमारी और मन को वक्त वक्त पर साफ करना बहुत जरूरी है


 क्योंकि अलमारी में सामान और मन में गलतफहमियां बढ़ जाती है कहां पर छुपा कर रख दूं मैं अपने हिस्से की शराफत जिधर भी देखता हूं उधर बेईमान खड़े हैं क्या खूब तरक्की कर रही है यह दुनिया खेतों में बिल्डर और सड़क पर खड़े हैं जिंदगी भर बस इतना लिख पाया हूं मैं बहुत मजबूत रिश्ते थे कुछ कमजोर लोगों से अरमान ही बरसों तक जला करते हैं

 यारों इंसान तो बस एक पल में खाक हो जाता है उम्र कोई भी हो जिंदगी रोज कोई ना कोई सबक जरूर सिखाती है नाराजगी बहुत नाजुक होती है प्यार का सर्फर्स मिलते ही ढेर हो जाती है यह दुनिया है जनाब यहां मिट्टी में मिलाने के लिए लोग कंधों पर उठा लेते हैं हल्की सी जिंदगी भारी सा भोज पैदा हुए थे एक बार मर रहे हैं रोज कभी पाना चाहता था अब खोना सीख गया हूं 

समय रिश्ते और लोग जरूरी नहीं किसी की बद्दुआ आपको तब आ करें किसी का सब्र भी आपको बर्बाद कर सकता है मुझे जिंदगी का इतना तजुर्बा तो नहीं पर सुना है सादगी में लोग जीने नहीं देते कोई आंखों से बातें करता है कोई आंखों से मुलाकातें करता है

 बड़ा मुश्किल होता है जवाब देना जब कोई चुप रह के सवाल करता है बड़ा बनो पर उसके सामने नहीं जिसने तुम्हें बड़ा किया है अपने वह नहीं जो तस्वीर में साथ दिखे अपने वह है जो तकलीफ में साथ दिखे जीने के लिए कोई परफेक्ट इंसान नहीं चाहिए होता बल्कि एक ऐसा इंसान चाहिए होता है जो रिस्पेक्ट और केयर करें बहुत दिनों से कोई नया जख्म नहीं मिला जरा पता तो करो यह अपने है कहां भरोसे में इतने भी अंधे ना बनो कि पास वाले के असली रंग हीना दिखाई दे


 आपको छलक जाए जब किसी की याद में आंखों से आंसू तो समझ जाएगी वह आपको दिल से नहीं आपकी आत्मा से जुड़ा है रूठ जाने के बाद गलती चाहे जिसकी भी हो बात शुरू वही करता है जो बेपनाह मोहब्बत करता है सुंदर रिश्तो से बढ़कर इस दुनिया में कुछ भी नहीं है जरूरी नहीं कि मिठाई खिलाकर ही दूसरों का मुंह मीठा करें आप मीठा बोल कर भी लोगों को खुशियां दे सकते हैं

 दुनिया की सबसे नाजुक चीज है इंसान का कभी-कभी बिना कुछ कहे भी चोट पहुंच जाती है अगर कोई आपकी उम्मीद से जीता है तो आप भी उसके यकीन पर खरा उतरना क्योंकि इंसान उसी से उम्मीद रखता है जिसको वह अपने सबसे करीब मानता है जीवन में सब कुछ कॉपी हो सकता है लेकिन संस्कार चरित्र और ज्ञान नहीं जिसको भी पर्वों को संभालने की जिम्मेदारी होती है वह अक्सर रफ कॉपी बन जाती है 


Post a Comment (0)
Previous Post Next Post