अच्छी वाली शायरी

नई शायरी प्यार वाली बेस्ट NEW SHAYARI PYAR  KI BEST

 आज उन्हें हमारा कोई ख्याल नहीं जवाब देने को हम राजी हैं पर कोई सवाल नहीं पूछो उनके दिल से क्या हम उनके यार नहीं पूछो उनके दिल से क्या हम उनके यार नहीं क्या हमसे मिलने को वह बेकरार नहीं कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है कोई कहता है प्यार सजा बन जाता है पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से तो वह प्यार ही जीने की वजह बन जाता है 


उदास नहीं होना क्योंकि मैं साथ हूं सामने न सही पर आस पास हूं पलकों को बंद कर जब भी दिल में देखोगे मैं हर पल तुम्हारे साथ हूं दिल से रोए मगर होठों से मुस्कुरा बैठे यूं ही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे वह हमें एक लम्हा न दे पाए 

अपने प्यार का वह हमें एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का और हम उनके लिए जिंदगी लुटा बैठे आंखों में रहा दिल में उतर कर नहीं देखा कश्ती के मुसाफिर ने समंदर नहीं देखा पत्थर कहता है मुझे मेरा चाहने वाला पत्थर के ता है मुझे मेरा चाहने वाला मैं मॉम हूं उसने मुझे छू कर नहीं देखा बीते पल वापस ला नहीं सकते सूखे फूल वापस खिला नहीं सकते कभी-कभी लगता है आप हमें भूल गए पर दिल कहता है कि आप हमें भुला नहीं सकते

 मेरे प्यारे दोस्तों हर शाम से तेरा इंतजार किया करते हैं ख्वाब में तेरा दीदार किया करते हैं हम तेरे दीवाने हैं हम तेरे इंतजार किया करते हैं इंतजार किया करते हैं आती है याद तुम्हारी आती है याद तुम्हारी आती है कब होगी तुमसे मुलाकात हमारी याद करते हैं  भी उम्र लग जाए आपको हमारी भी उम्र लग जाए आपको खुद से ज्यादा प्यार करते हैं

कभी खुशी से खुशी की तरफ नहीं देखा तेरे जाने के बाद किसी और को नहीं देखा तेरा इंतजार करना तो लाजमी है इसलिए कभी हमने घड़ी की तरफ नहीं देखा यूं सजा ना दे मुझे बेकसूर हूं मैं अपना ले मुझे गमों से चूर हूं मैं तू छोड़ गई हो गया मैं पागल और लोग कहते हैं 

बड़ा मगरूर हूं मैं मैंने खुदा से पूछा वह क्यों छोड़ गया मुझे उसकी क्या मजबूरी थी खुदा ने कहा ना कसूर तेरा था ना गलती उसकी थी मैंने यह कहानी लिखी ही अधूरी थी तुम्हारे चांद से चेहरे पर गम अच्छे नहीं लगते एक बार हमसे कह दो तुम चले जाओ हमें तुम अच्छे नहीं लगते दिल से कब निकलता है दिल में बस जाने के बाद दर्द कितना होता है 

बिछड़ जाने के बाद जो पास होता है उसकी कदर नहीं होती है कदर होती है दूर जाने के बाद जिस दिल में रहते हैं वह दिल तोड़ मत देना बहुत यकीन है तुम पर अकेले छोड़ मत देना जिस दिल में रहते हो वह दिल तोड़ मत देना बहुत यकीन है तुम पर अकेले छोड़ मत देना यह मोहब्बत की हाथ से अक्सर दिलों को तोड़ देते हैं यह है मोहब्बत के हाथ से अक्सर दिलों को तोड़ देते हैं 

आप मंजिल के बात करते हो जनाब लोग राहों में ही साथ छोड़ देते हैं मत पूछ मेरे जागने की वजह क्या है तेरा ही हमशक्ल है जो मुझे सोने नहीं देता जाना था हमसे दूर तो बहाने बना लिए जाना था हमसे दूर तो बहाने बना ली अब तुम कितना दूर हो कि गाने बना दिए अब तुम कितना दूर हो ठिकाने बना लिए हो सकते हैं मोहब्बत दोबारा भी बस हौसला चाहिए फिर से बर्बाद होने का हो सकती है मोहब्बत दोबारा भी बस हौसला चाहिए फिर से बर्बाद होने का होती नहीं है

 मोहब्बत सूरत से मोहब्बत तो दिल से होती है सूरत उनकी खुद-ब-खुद लगती है प्यारी कदर जिनकी दिल में होती है उनका इतना सा किरदार है मेरे सीने में कि उनका दिल धड़कता है मेरे सीने में वह चुपके से मेरी खामोशी को पड़ती है मेरी खामोशी को पड़ती है सच में बहुत सादगी से मोहब्बत करती है थोड़ी गुस्से वाली हो और थोड़ी नादान हो तुम लेकिन जैसी भी हो मेरी जान हो तुम लेकिन जैसी भी हो मेरी जान हो तुम इश्क की किताब का असूल है

 जनाब मुड़कर देखोगे तो मोहब्बत मानी जाएगी हमारी तड़प तो कुछ भी नहीं सुना है तुम्हारे किरदार के लिए आईना भी तड़पता है उसने मोहब्बत मोहब्बत से ज्यादा की थी अब वह किसे कहेंगे मोहब्बत की हमने शुरुआत की इंतहा से ज्यादा की थी हमें सीने से लगाकर हमारी सारी कसम दूर कर दो हम सिर्फ तुम्हारे हो जाए हमें इतना मजबूर कर दो टपकती है निगाहों से झलकती है अदाओं से कौन कहता है 

मोहब्बत पहचाने नहीं जाती है आपके आने से जिंदगी कितनी खूबसूरत है दिल में बसाई है वह आपकी सूरत है दिल में बसाई है जो वह आपकी सूरत है दूर मत जाना कभी हमसे हमें हर कदम पर आपकी जरूरत है हमें हर कदम पर आपकी जरूरत है हम तो 

जब कोई आपसे मजबूरी में जुदा होता है जरूरी नहीं वह इंसान बेवफा होता है जब कोई देता है आपको जुदाई के आंसू तन्हाइयों में मैं आपसे ज्यादा रोता है यह तेरी चाहत मुझे किस मोड़ पर ले आई इस दिल में गम है और दुनिया में रुसवाई अब तू कटता है हर पल सदियों के बराबर अब तो लगता है कि मार ही डालेगी तेरी है जुदाई ना जाने वह कौन है जो बिन बुलाए आता है 

मेरे ख्याल से तेरा ख्याल ही होगा जो मुझे सताता है मेरे ख्याल से तेरा ख्याल ही होगा जो मुझे सताता है दिल तोड़ना हमारी आदत नहीं दिल तोड़ना हमारी आदत नहीं दिल हम किसी का दुखाते नहीं भरोसा रखना मेरी वफाओं पर भरोसा रखना मेरी वफाओं पर दिल में बसा कर हम किसी को बुलाते नहीं देखकर अक्सर तुमको हमें यह एहसास होता है कभी-कभी दुख देने वाला भी कितना खास होता है


 दिल में छुपी यादव से सवारू तुझे तू देखे तो अपनी आंखों में उतारूं तुझे तू देखे तो अपनी आंखों में उतारूं तुझे तेरे नाम को लबों पर सजाया है तेरे नाम को लबों पर ऐसे सजाया है तो भी जाऊं तो ख्वाबों में पुकारू तुझे आंखे मेरी सांसों में बस जाऊं तो अच्छा होगा बनके मेरे दिल में उतर जाओ तो अच्छा होगा किसी राज तेरी गोद में सिर रख कर सो जाओ फिर उस रात की सुबह ना हो तो अच्छा होगा नशा था तेरे प्यार का जिसमें हम खो गए नशा था तेरे प्यार का जिसमें हम खो गए हमें भी पता नहीं चला कब हम तेरे हो गए इन आंखों में जब जब उनका दीदार होता है इन आंखों में जब जब उनका दीदार होता है  

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post