प्यार कया है जिंदगी के पंथ पर चलने में सहायता

 प्यार कया है जिंदगी के पंथ पर चलने में सहायता करने वाला साथी दो आत्माए मगर एक  सोच दो दिल मगर एक धकन यह ही प्यार है 

मोहबत जिंदगी का मकसद आखो से न जाने कब वो दिल में उतर गय की हम खुद को ही सभालते रह गए हमारे मन में था ज़माने का डर कुछ इस कदर की हम अपनी चाहत को छुपाकर गए उनसे मुकर 


सुरु हुआ अफसाना प्यार का और हम बह गये कुछ इस कदर की लगता था की जी ना पायेगे हम उनके बिना शायद तुम्हारा मेरा था साथ बस इतना कयो की हम बनने जा रहे है किसी और के सजना 

जिंदगी ने जो दगा दिया है मुझको मेरी चाहत से दूर किया है मुझको  ए-जिंदगी ये मेरा वादा है तुमसे हम भी कभी बदला लेंगे तुमसे 

सितारों से आगे जहा और भी है जमी और है आसमा और भी है मगर खो गया एक नशेमन तो क्या गम है चमन और है आशिया और भी है टूटे दिलो की यह है दास्ता गम है जयादा खुशी से ना रहा अब कोई वास्ता किसी ने काटा है हमारा रास्ता फिर भी खुश रहा सदा तुम्हे रब दा वास्ता 

अनकहा अनछुआ रिस्ता है हमारा भूल जाओ उसे जो हो न स्का तुम्हारा अब बस यादे ही रह गई हमारे जीने का सहारा केसा ए जिंदगी अजीब रिस्ता है हमारा बस हमारा तोडा है दिल तुम्हारा तोडा है हर सपना माना था जिसे तुमने वो हो न सका तुम्हारा वो अजीब है तुम्हारा अपना वो हकीकत नहीं था एक बुरा सपना 

ना आओ इतने पास की आपनो से नाता टूट जाये जिंदगी की राहो में कोई प्यार साथी छूट जाये दूर जाये कैसे पास आये तो कैसे जब जाना है बिच राहो में तो नजदीकियां बढ़ाये कैसे चाहे जिंदगी में आये बेशुमार गम पर यह प्यार ना होगा कभी गम चाहे बिछुड़  जाये बिच राहो में पर हमारी यादो में तुम्हारा आना जाना ना होगा कम 

प्यार छुपाकर दिल में सपने सजाकर मन में कैसे वक्त बिता पल भर में एक ऐसा हवा का जोका आया जब हम बिछड़ने लगे क्षण भर में जिंदगी को खुदा की अमानत समजकर जीना चाहे राहो में कितने ही आये गम जब भी मिलना मुस्कराकर मिलना चाहे दिल में हो कितने ही गम 

जब भी मिलेंगे मुस्कराकर मिलेंगे तुम्हे देखकर हम अपने गम भूल जायेगे और हमे देखकर तुम अपने गम भूल जाना जानम ना मिलने का कभी अफ़सोस न करना जिंदगी में सभी मिलने है हमेशा लेकिन हम मिलेंगे यादो में हरपल हमे सोचकर तुम मुस्कराना और तुम्हे सोचकर हम मुस्करा लेंगे हम 

बीते हुआ लम्हे को याद कर लेंगे तेरी यादो से प्यार कर लेंगे तू न आए तमाम उम्रः सही पर हम तेरा इतजार  कर लेंगे प्यार में वादे का परखना क्या हम तो बस ऐतबार कर लेंगे साथ गर तुम निभाओ तो हम फिजा को भी बहार कर लेंगे है यकी अपने प्यार पर हमको तुमको भी बेकरार कर लेंगे 


कुछ तूने कहा कुछ तेरे काजल ने कहा कुछ तेरी उड़ती हुई जुल्फ के बादल ने कहा वो राज खुल कर कह सका ना कोई जो तेरे सीने से लिपटे आँचल ने कहा  हमारे लिए अपना प्यार कम ना करना हम रहे या ना रहे तुम अपनी आखो नम ना करना तुम उदास कयो रहती हो तुम्हारा था हु रहुगा हम इस जन्म में ना सही अगले जन्म में जरूर मिलेंगे पर हमेशा कुस रहना तू 

नए नए अंदाज में आपकी याद आती है कभी आखो में आसु तो कभी होठो पे हसी आती है ना ही तुम कोई चाँद हो ना ही में चकोर ना ही तुम बारिस की बुद हो ना नहीं ही में मोर ना ही कोई शायर हु ना तुम गजल हो पर कहता हु की तुम्ही मेरा आने वाला कल हो गेरो से करोगे मोहबत तो आपनो का क्या होगा मेरे दिल में सजे हसीन अरमानो का क्या होगा जाओगे हमसे दूर और करोगे बेवफाई तो मेरे दिल में सजे अरमानो का क्या होगा ए मेरे दोस्त 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ